Akbar Birbal Story in Hindi – अकबर बीरबल की रोचक कहानियां

73 views
Akbar Birbal Story in Hindi
Akbar Birbal Story in Hindi

Akbar Birbal Story in Hindi – अकबर बीरबल की रोचक कहानियां हिंदी में :

पढ़े अकबर बीरबल की अनोखी कहानियां , बादशाह अकबर के नवरत्नों में से एक थे बीरबल जो अपनी बुध्दिमता एवं चतुराई से पूरी विश्व भर में मशहूर थे। तो चलिए पढ़ते है अकबर बीरबल के रोचक किस्से , कहानियां।

Akbar Birbal Hindi Stories –

कौओं की गिनती

Akbar Birbal Story in Hindi
Akbar Birbal Story in Hindi

एक बार बादशाह अकबर के दरबार में उनसे मिलने उनके मित्र दूसरे राज्य से आये। वे दोनों महल के बग़ीचे में टहलते हुए बातें कर रहे थे। उनके मित्र ने बादशाह अकबर से कहा , हमने सुना है आपका मंत्री बीरबल (birbal) बेहद बुद्धिमान है , और उनके पास हर सवाल का जवाब है।

बादशाह अकबर ने कहा – हाँ , बीरबल बहुत बुद्धिमान है।

बादशाह अकबर के मित्र ने कहा – ” मैं बीरबल की परीक्षा लेना चाहता हूँ , तभी मानूँगा की बीरबल सच में बुद्धिमान है। “

बादशाह अकबर ने कहा – ” हाँ क्यों नहीं , हम अभी बुलवाते है बीरबल को “

बीरबल को बुलवाया गया , बादशाह अकबर (Akbar) ने कहा हमारे मित्र तुम्हारी बुद्धिमता की परीक्षा लेना चाहते है। बीरबल ने कहा बिलकुल जहांपना।

उनके मित्र की नज़र बगीचे में उड़ते कौओं पर पड़ी , उन्होंने बीरबल से पूछा – “बीरबल तुम्हारे राज्य में कितने कौए होंगे। “

बीरबल (birbal) में अपनी उंगलियों में कुछ गिनती की और हिसाब लगा कर कहा – ” हुजूर , हमारे राज्य में कुल 90,786 कौएं है “.

इस पर बादशाह अकबर (Akbar) के मित्र ने कहा – ” बीरबल तुम इतने यकींन के साथ कैसे कह सकते हो, “.

फिर बीरबल ने बहुत ही चतुराई से उनका उत्तर दिया – ” हुज़ूर , आप खुद गिन कर देख लीजिये। ”

बादशाह अकबर को इसी प्रकार के उत्तर अंदेशा था ,उनके मित्र ने फिर पूछा -” अगर , इससे कम हुए तो “.

बीरबल ने मुस्कुरा कर जवाब दिया – ” अगर कम हुए तो कौए अपने रिश्तेदारों से मिलने दूसरे राज्य गए होंगे , और यदि ज्यादा हुए तो हुज़ूर इसका मतलब है की कुछ कौए अपने रिश्तेदारों से मिलने इस राज्य में आये होंगे ” .

बादशाह अकबर के मित्र ने मुस्कुरा कर कहा ” मान गए बीरबल तुम्हारी बुद्धिमता का कोई जवाब नहीं , इसलिए तुम बादशाह अकबर (Akbar) के नवरत्नों में से एक हो “.

सबसे बड़ा मुर्ख कौन

Akbar Birbal Story in Hindi
Akbar Birbal Story in Hindi

एक दिन बादशाह अकबर और बीरबल साथ में बैठ कर पासा खेल रहे थे। तभी अकबर (akbar ) के दिमाग सुझा क्यों ना बीरबल परीक्षा ली जाये। अकबर ने कहा बीरबल मैं तुम्हे एक काम सौंपता हूँ , तुम इस राज्य के 4 सबसे मुर्ख लोगो को खोज कर लाओ मैं तुम्हे इसके लिए एक महीने का समय देता हूँ।

बीरबल ने कहा जी हुज़ूर , और मूर्खो की तलाश में निकला।

एक महीने बाद बीरबल (birbal) अपने साथ दो लोगो को ले कर लौटा , अकबर (गुस्से में )- बीरबल, मैंने तुम्हे कहा था 4 मूर्खो को ले कर लौटना लेकिन तुम अपने साथ सिर्फ 2 लोगो को ले कर आये हो।

बीरबल (मुस्कुराते हुए ) – ” हुज़ूर लाया हूँ , पेश करने का मौका तो दीजिये “.

जहांपना ये रहा राज्य का पहला मुर्ख : इसके पास बैल गाड़ी थी फिर भी ये अपना थैला सर पर ढ़ो रहा था, इसका कहना था की बैल पर ज्यादा भार ना हो जाये इसलिए मैं सामान सर पर ढ़ो रहा हूँ। तो इस लिहाज़ से ये है राज्य में सबसे बड़ा मुर्ख ।

अब जहांपना ये दूसरा मुर्ख : इसके छत पर घास उग आयी थी , तो यह अपनी गाय को घास चराने छत पर ले गया , घास काटकर नीचे लाकर भी तो खिला सकता था गाय को । तो इस प्रकार यह व्यक्ति इस राज्य का दूसरा मुर्ख है।

और जहांपना यहाँ तीसरा मुर्ख मैं हूँ जिसे राज्य के इतने सारे काम करने है फिर भी मूर्खो को ढूंढ़ने में एक महीना बर्बाद किया। बादशाह सलामत , आप पर राज्य की इतनी बड़ी जिम्मेदारी है, और राज्य के काम भी आप दिमाग वालो से ही कराते है मूर्खो से नहीं , फिर भी आप मूर्खो की तलाश करते रहे। जिससे आपने अपना और मेरा भी समय बर्बाद किया। तो इस हिसाब से चौथे मुर्ख आप हुए जहांपना।

अब अकबर , बीरबल की हाज़िरजवाबी और चतुराई पर बिना मुस्कुराये रह ना सके।

(समाप्त, Akbar Birbal Story in Hindi )


इन Short Stories को भी जरूर पढ़े –

Motivational posts पढ़ने के लिए यहाँ Click करे.

Akbar Birbal Story in Hindi , आपको कैसी लगी हमे कमेंट कर के जरूर बताये। और शेयर करे अपने दोस्तों के साथ।

यदि आप ऐसी ही मज़ेदार कहानियां , Hindi Story पढ़ना चाहते है तो हमे Email पर Subscribe करे और पाए Notification सबसे पहले।