डेंगू के लक्षण , बचाव और उपाय- Dengue in Hindi

जानिए डेंगू के लक्षण , बचाव और उपाय- Dengue in Hindi :

बरसात का मौसम आते ही आजकल अख़बारों और न्यूज़ चैनेलों में डेंगू की खबर काफी वायरल होने लगती है। भारत में डेंगू के कारण हर साल कई लोगो की मृत्यु हो जाती है। बहुत से लोग डेंगू के लक्षण को ठीक से समझ नहीं पाते और काफी देर कर देते है, जिसके कारण डेंगू बुखार काफी तेजी से मरीज को अपने चपेट में ले लेता है। तो क्यों ना हम डेंगू बुखार से बचने के लिए पहले से ही सावधानी बरते जिससे हम अपना और अपनों का बचाओ कर सके। तो चलिए इस लेख में हम जानेंगे डेंगू क्या है , इसके लक्षण , बचाव  और उपाय  क्या है।

Dengue in Hindi- डेंगू क्या है ?

डेंगू बुखार एक संक्रमण रोग है , जो डेंगू वायरस के कारण होता है। मच्छर डेंगू वायरस को फैलाते है। इसे “हड्डी तोड़” बुखार भी कहते है। क्योकि इसमें मरीज को पुरे बदन में इतना अधिक दर्द होता है, जैसे उनकी हड्डियां टूट गयी हो।

डेंगू बुखार होने पर मरीज के खून में प्लेटलेट्स (platelets) की सँख्या काफी तेजी से कम होने लगती है। जिससे कई बार जान जाने का भी खतरा हो जाता है। डेंगू एक इंसान से दूसरे इंसान में नहीं फैलता, डेंगू बुखार केवल मच्छर के काटने से ही फैलता है। डेंगू मच्छर दिन के समय ज्यादा सक्रिय होते है ,

डेंगू के लक्षण – Symptoms of Dengue in Hindi-

  • ठण्ड लगने के बाद अचानक तेज बुखार हो जाना
  • मांसपेशियों , सर , कमर और जोड़ो में तेज दर्द
  • गले में दर्द , और हल्की ख़ासी
  • शरीर पर लाल रशेस (दाने) होना
  • थकावट और कमजोरी होना
  • भूख ना लगना , जी मचलना मुँह का स्वाद खराब हो जाना
  • उल्टी होना , खाना न पचना
  • ब्लड प्रेशर , चक्कर आना

डेंगू से बचाव – Remedies of Dengue in Hindi-

डेंगू के लक्षण , बचाव और उपाय- Dengue in Hindi

  • डेंगू का वायरस एडीज मच्छर के काटने से फैलता है
  • डेंगू साफ़ पानी में पनपता है , इसीलिए घर के आस-पास कही भी पानी इक्कठा ना होने दे. चाहे वह कूलर का पानी हो , गमले का , बाल्टी या फिर bottles का, क्योकि कई बार हम bottles में पीने का पानी काफी सारी बॉटल्स में भर लेते है, जो use भी नहीं होता।
  • पानी को बदलते रहना चाहिए।
  • कूलरों में मिट्टी तेल का छिड़काव करते रहे
  • घर और घर के आस-पास कीटनाशक का छिड़काव कराये
  • इस मौसम में जितना हो सके घर की खिड़कियों को बंद रखे
  • फूल बाजु वाले यानि बदन ढकने वाले कपडे पहने
  • जितना हो सके खाने में विटामिन -C  युक्त पदार्थ शामिल करे जैसे – संतरा , मौसम्बी, नींबू , कीवी , पपीता , अमरूद , टमाटर , चेरी आदि। क्योकि यह आपके शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है।

डेंगू के उपाय , डेंगू से ग्रसित होने पे क्या करे – Treatment of dengue –

अगर आपका बुखार नहीं जा रहा,  या आपको कोई भी लक्षण डेंगू का लग रहा हो तो सबसे पहले डॉक्टर के पास जाये मैं आपको यही सलाह दूंगी , डॉक्टर के इलाज के साथ आप ये कुछ घरेलु उपाय करे। क्योकि , डेंगू बुखार होने पर मरीज के खून में प्लेटलेट्स (platelets) की सँख्या काफी तेजी से कम होने लगती है। जिससे जान जाने  का खतरा हो सकता। इसीलिए इन कुछ उपायों को कर के प्लेटलेट्स की सँख्या को नार्मल कर सकते है।

डेंगू के लक्षण , बचाव और उपाय- Dengue in Hindi

  • मरीज को पपीते के पत्ते पीस पर उसका रस दे सकते है, इसके रस को दिन में दो बार दे ,यह शरीर में प्लेटलेट्स (platelets) बढाने में काफी कारगर है।
  •  ज्यादा से ज्यादा पानी पीये
  • Vitamin -C युक्त फल खाये जैसे – कीवी , संतरा ,यह काफी फायदेमंद है।
  • नींबू पानी और नारियल पानी भी डेंगू मरीज के लिए बहुत लाभदायक है।
  • मरीज को एस्प्रिन और डिस्प्रिन की गोली कभी न दे
  • तुलसी और शहद – तुलसी की पत्तियों को पीस कर उसमे शहद मिला कर सेवन करे , इसमें मौजूद एंटी बैक्टीरियल गुण बीमारी के बचाव में काफी सहायक है।
  • डेंगू बुखार में खून की कमी हो जाती है. और शरीर काफी कमज़ोर हो जाता है ,अनार खून की कमी को पूरा करने में मदद करता है।
  • बकरी का दूध डेंगू बुख़ार में काफी फायदेमंद है। बकरी का कच्चा दूध दिन में 2 -3 बार थोड़ी मात्रा में पीने से काफी लाभ होता है।

अगर ऊपर दिए डेंगू के लक्षणों में से आपको कोई लक्षण दिखाई दे तो , तो तुरंत डॉक्टर के पास जाये। इसे बिलकुल भी नज़र अंदाज़ ना करे।

हम सभी को इस रोग के प्रति जागरूक होना बहुत जरुरी है ,क्योकि इस आंतक मचाने वाली बीमारी में जानकारी ही बचाव है , बस हम सभी को सतर्क रहना है। अगर आपको , ” डेंगू के लक्षण , बचाव और उपाय- Dengue in Hindi” यह जानकारी थोड़ी भी उपयोगी लगी हो तो कृपया दुसरो को भी शेयर करे। और भी उपयोगी जानकरी एवं मोटिवेशन से related आर्टिकल्स पढ़ने के लिए हमे subscribe करना ना भूले , email box में अपना email ऐड करे।

Hello I am Sarabjeet Kaur from jamshedpur and i am founder of talkshauk.com. I have completed Diploma in Computer Engineering.

If u like this Post Please Share..

4 thoughts on “डेंगू के लक्षण , बचाव और उपाय- Dengue in Hindi”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *